Home / Hindi News / बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री ने किया राष्ट्रगान का अपमान, देशद्रोह का मामला दर्ज
lalu-prasad-pratap-sons-tejashvi-and-tej

बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री ने किया राष्ट्रगान का अपमान, देशद्रोह का मामला दर्ज

पटना, बिहार: इधर कुछ दिनों से बिहार लगातार नेशनल और इंटरनेशनल मीडिया में बना हुआ है। हाल ही भी बीजेपी और आरएसएस मुक्त भारत का नारा लगाने वाले बड़बोले नेता और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बीजेपी का दामन थाम लिया है और सत्ता के दम पर पूरे बिहार में गुंडागर्दी फैला रहे लालू और कांग्रेसी नेताओं को उनकी असली औकाद बता दी है। वैसे कोई माने या न माने नितीश कुमार बिहार की राजनीति के चाणक्य है और सुविधा की राजनीति करने में कोई उनकी बराबरी नहीं कर सकता।

 

भारतीय राजनीति में अधिकांश नेता सत्ता की मलाई चाटने के लिए कोई भी समझौता करने के लिए रहते है। नितीश और लालू जैसे दो बिलकुल विपरीत स्वभाव वाले नेता का साथ आना और फिर अलग हो जाना इसी बात की पुष्टि करता है।

 

सत्ता से बाहर होते ही लालू यादव तथा उनका कुनबा अपने आप को दूध का धुला हुआ तथा नितीश को धोखेबाज की संज्ञा दे रहा है।

 

पूर्व-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव लगभग अनपढ़ है। 15 अगस्त के अवसर पर सारे देश में पूरे धूमधाम से स्वतंत्रता दिवस मनाया गया। लेकिन तेजस्विनी ने भारत के राष्ट्रगान को लेकर एक बेहद ही घटिया ट्वीट को अपने ऑफिसियल ट्विटर अकाउंट से रिट्वीट करके अपने मुर्ख और संवेदनहीन होने का परिचय दिया। उनकी इस मूर्खतापूर्ण करतूत से आहत होकर दरभंगा जिले में उनके विरुद्ध देशद्रोह का मामला दर्ज किया गया है। अब देखना ये है कि बिहार पुलिस और न्यायपालिका इस मामले की जांच कहा तक करती है। तेजस्वनी जैसे बिहारी गधों की क़ानूनी कुटाई बेहद जरुरी है क्योकि राजनितिक विरोध के नाम पर देश के अपमान की इजाजत नहीं दी जा सकती। हर सच्चा भारतीय भारत से प्रेम करता है। जय हिंद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

*

x

Check Also

Aadhar-card

आधार कार्ड के प्रयोग से उत्तराखंड में खुला भ्रष्टाचार का खेल, 2 लाख मुस्लिम छात्र रातोरात ग़ायब

विशेष रिपोर्ट, नई दिल्ली: भारत में भ्रष्टाचार एक गंभीर समस्या है। 1947 में देश के आज़ाद ...